Latest News

जालंधर में "खालसा" ने रखी मंदिर पुन: र्निर्माण की नींव, जानिए कहां गूंजे हिन्दू-सिख एकता के नारे

By Rajesh Kapil (JNN Chief)

Published on 19 Jun, 2018 04:08 PM.

जालंधर। पंजाब में जहाँ आए दिन हिन्दू-सिख एकता को तोडऩे की साजिशें हो रही है, वहीं ऐसी ताकतों को समाज मुँह तोड़ जवाब भी दे रहा है। ता$जा खबर है कि भगवान वाल्मीकि गेट के निकट स्थित प्राचीन बांके बिहारी मंदिर का पुन: निर्माण होने जा रहा है और कार्य का नींव पत्थर सिख नेता कंवलप्रीत सिंह खालसा से भी रखवाया गया। विधायक बेरी और मंदिर सेवादार सुनील मदान ने भी नींव पत्थर कार्य को साथ होकर सम्पन्न करवाया। भूमि-पूजन पंडिय राम नारायण शर्मा  किया और इस मौके पर पार्षद सिमरनजीत कौर, पटवारी अश्वनी बाटा भी पहुुँचे। इलाका निवासियों ने जयकारों के साथ सभी का स्वागत किया। इस मौके पर पूर्व पार्षद गोपाल मिंया, प्रवीण बेकरी से रामचंद बजाज, स्वदेश अग्निीहोत्री, डा. स्वदेश डोगरा, देवेन्द्र ंिसंह रोमी,  रविन्दर मोंगिया, गुलशन खेड़ा, राजकुमार शर्मा, सोमनाथ डोगरा, राकेश चोपड़ा, विशाल डोगरा, संजय सभ्रवाल, पाल सिंह, जनकराज, दर्शन सिंह, सुरेन्द्र तलवाड़ कुक्कु, मनोज छाबड़ा, विजय खन्ना, सरवण सिंह आदि मौजूद थे। मंदिर के प्रमुख सेवादार सुनील मदान ने बताया कि निर्माण कार्य पर होने वाले खर्च को संगत व सेवादारों से एकत्र किया जा रहा है। अभी तक स्त्री सत्संग सभा की प्रधान सुधा कपूर ने 2 लाख रुपए, फूलचंद गुप्ता-आशीष गुप्ता, सुदेश अग्निीहोत्री तथा रेणु खन्ना ने 21-21 हजार, महिला सोसाइटी ने 20 हजार रुपए, रेलवे से रिटायर्ड नरिन्दर कुमार धारी, सुधा रानी कपूर, अनंत टूल्ज, निर्मल बाबा व रमन संधू ने 11 ह$जार रुपए, जौनी, शमशेर शर्मा, सोहन लाल सचदेवा तथा कृष्णा रानी ने 51-51 सौ रुपए का अनुदान भी दिया। मदान ने कहा कि मंदिर को नवीनतम लुक देने के लिए बढिय़ा कारीगरों से काम करवाया जा रहा है। निर्माण खर्च के लिए अनुदान देने के लिए भक्त उनसे या किसी भी मंदिर सेवादार से संपर्क कर सकते हैं।

इस लिंक पर क्लिक करके देखें कार्यक्रम की वीडियो

https://youtu.be/i7MvzV1VAko

 

Reader Reviews

Please take a moment to review your experience with us. Your feedback not only help us, it helps other potential readers.


Before you post a review, please login first. Login
ताज़ा खबर
e-Paper